दो बच्चों का बने कानून:डॉ दीपक शर्मा

कपिल चौधरी: देश मे बढ़ती हुई जनसंख्या को लेकर डॉ दीपक कुमार शर्मा के नेतृत्व में जनसंख्या समाधान फाउन्डेशन के द्वारा ग्रेटर नोएडा के सेक्टर बीटा-२ में एक गोष्ठी का आयोजन हुआ.गोष्ठी में बढ़ती हुई आबादी और घटते हुए संसाधनों की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित कराया गया.

गोष्ठी में बोलते हुए डॉक्टर शर्मा ने कहा की जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए शीघ्र से शीघ्र सख्त कानून बनना चाहिए. उन्होंने बताया कि हम पिछले 3 साल से लगातार ज्ञापन के माध्यम से ,भूख हड़ताल के माध्यम से अपनी बात प्रधानमंत्री तक पहुंचाने की कोशिश करते रहे हैं परंतु अभी तक किसी भी प्रकार की कोई सकारात्मक और गंभीर चर्चा सरकार की तरफ से इस विषय मे नहीं हुई है.अतः अब हमने बाध्य होकर ९ मार्च से ११ मार्च २०१८ के बीच पदयात्रा के द्वारा अपनी बात दिल्ली में बैठी सरकार के कानों तक पहुंचाने का निर्णय लिया है.उन्होंने आगे कहा कि सोए हुए को जगाना आसान है परंतु जो सोने का ढोंग कर रहा हो उसे जगाना बहुत मुश्किल है और वर्तमान सरकार सोने का स्वांग/ढोंग कर रही जबकि उन्हे भी जनसंख्या वृद्धि से होने वाले दुष्परिणामों का भान है।अब सरकार को झूठी निंद्रा से जगाने का एक ही रास्ता है कि हम सड़कों पर उतरे और शांति पूर्वक अपनी बात देश के हुक्मरानों तक पहुंचाएं.इसके लिए उन्होने ग्रेटर नोएडा के लोगों का सहयोग माँगा.

गोष्ठी में अनिल चौधरी ,ममता शर्मा, राजकुमार भाटी ,आलोक सिंह इत्यादि ने भी बढ़ती हुई जनसंख्या पर अपने विचार रखें और इसकी गंभीरता की ओर सरकार का ध्यानाकर्षण किया.

गोष्ठी में डॉ नरेंद्र सिंह डागर, अनुज भार्गव, गौरव सत्यार्थी ,कुलदीप मलिक, हरेंद्र भाटी, टीकम सिंह इत्यादि सैकड़ों लोगों ने भाग लिया और सभी ने तन,मन और धन से अपना सहयोग इस मुहिम में जनसंख्या समाधान की टीम को देने का वायदा किया.

Related posts

Leave a Comment