दादरी में मुख्य मार्ग पर जलभराव होने से लोग परेशान

 दादरी रेलवे रोड से होते हुए कटेहरा व अन्य कालोनीवासीयो के जाने वाला मुख्य मार्ग पर जलभराव  हो चुका है। इस बारे में स्थानीय निवासी- रोहित कुमार तौगड (एड) का कहना है  कि यह मार्ग कटेहरा से कालोनीयो व नगर पालिका का वार्ड नंं 10 का भी मुख्य मार्ग है। पानी का निकास न होने पर व बारिश पड़ने पर मार्ग पर पानी भर जाता है सभी को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसी मार्ग से छोटे-छोटे बच्चे स्कूल जाते है मार्ग पर पानी भरा होने के कारण स्कूल…

Read More

सुरजपुर से दादरी को जाने वाले मार्ग पर जगह-जगह गहरे गड्ढे

दादरी | सुरजपुर से दादरी को जाने वाले मार्ग पर जगह-जगह गहरे गड्ढे होने के करण सफ़र करने वाले आमजन सहित वहन चालकों को भारी परेशानियों का सामना करना पद रहा है।. यह नॉएडा को सूरजपुर के रास्ते दादरी से जोड़ने वाला प्रमुख मार्ग है। स्थानीय लोगों का कहना है कि ठेकेदार ने घटिया किस्म की सामग्री का उपयोग किया था, इसलिए गड्ढे हो गए हैं। उन्होंने बताया कि इस मार्ग पर छोटे बड़े वाहन गुजरते रहते है। उन्होंने बताया कि इस मार्ग पर गुजरने वाले लोगों को आए दिन…

Read More

ऐसे बच सकते हैं ऑनलाइन फ्रॉड से

नोएडा में हुए ऑनलाइन क्लिकिंग फ्रॉड के मामले से साफ पता चलता है कि जल्दी पैसा कमाने की चाहत कभी-कभी आपको मुसीबत में भी डाल सकती है. आपकी जल्दी और कम मेहनत में पैसा कमाने की चाह वित्तीय संकट में भी डाल सकती है. फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल नेटवर्क को भी अपने विज्ञापन के मॉडलों में से एक के रूप में पेमेंट पर क्लिक मॉडल को दिखाते हैं और इसी तरह के मॉडल पर काम करने वाली अन्य वेबसाइट भी आपको घर बैठे केवल क्लिक करने के बदले पैसे…

Read More

साइन बोर्ड पटे हुए हें प्रचार सामग्री से..

ग्रेटर नॉएडा : शहर में जगह जगह साइन बोर्ड प्रचार सामग्री से पटे हुए हें लोग साइन बोर्ड को प्रचार के लिये उपयोग कर रहे हें और आने जाने वालो लोगो को परेशानी होती हें इस तरह के प्रचार के रोक थम के लिये प्रसाशन को कुछ कठोर कदम उठाने चाहिऐ, जिसे कि  साइन बोर्ड पे प्रचार सामग्री ना लगे और आने जाने वाले लोगो को परेशानी का सामना नही करना पड़ेगा , इस तरह के प्रचार  से शहर की खूबसुरती को बेकार करता हें , प्रचार करने का और…

Read More

गावों की समस्या सुनने वाला कोई नही हें|

ग्रेटर नॉएडा : गावों में समस्याओ का अम्बार लगा हुआ हें, उनका कोई जनप्रतिनिधि नही हें, जो गावो की समस्याओ को आगे लेकर जाये, जगह जगह कूड़े का ढेर लगे हुए हें, गावों में कोई सफाई कर्मचारी नही आता सफाई के लिये.  प्राधिकरण ने गावों से उनके जनप्रतिनिधि (प्रधान) छीन लिया हें, लोग अपनी समस्या लेकर किस के पास जाये, प्राधिकरण में उनकी कोई सुने वाला नही हें, गावों का बुरा हाल हें, कोई अधिकारी गावों की तरफ़ रुख़ नही करता, जबकि गावों में प्राधिकरण को काम करना चाहिऐ, क्योकि…

Read More