Breaking News
Home / संपादकीय

संपादकीय

लड़किया क्यों बनती जा रही हैं , एक प्रोडक्ट

KAPIL KUMAR : क्या आप ऑटो एक्सपो देखने गये ? यदि हा तो फिर अपने क्या क्या देखा वहा पर, लड़कियों को भी एक प्रोडक्ट के रूप में प्रस्तुत क्या गया है हर एक कार के साथ लड़की है जैसे मानो की हर कार के साथ लड़की भी प्रोडक्ट के …

Read More »

अब वह दिन दूर नहीं जब राष्ट्र तो होगा, लेकिन राष्ट्रीय पक्षी नहीं होगा|

26 जनवरी 1963 को मोर को राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया गया| इस रविवार 26 जनवरी को जब हम अपना 71 वां गणतंत्र दिवस मनाएंगे मोर भी बतौर राष्ट्रीय पक्षी 58 वे वर्ष में प्रवेश कर चुका होगा| मोर को राष्ट्रीय पक्षी घोषित करने का सफर इतना आसान नहीं रहा एक …

Read More »

ऑटो सेक्टर के टायर पंचर

भारतीय अर्थव्यवस्था की नाक समझा जाने वाला ऑटो सेक्टर अभी तक के सबसे बुरे दौर में पहुंच गया है। हर तरह की गाड़ियों की बिक्री में गिरावट जारी है। लगातार आठवें महीने आंकड़े ऐसे ही आए हैं। पैसेंजर गाड़ियों में इस साल जुलाई तक 19 साल में सबसे बड़ी गिरावट …

Read More »