Breaking News
Home / ग्रेटर नॉएडा / खूबसूरती और ताकत का संगम बॉडी बिल्डिंग

खूबसूरती और ताकत का संगम बॉडी बिल्डिंग

(कपिल कुमार) : आज कल जिम जाना फैशन बन गया है अच्छी फिजिक पाने की बात हो या कम करनी हो, मसल बनानी हो या बढ़ते वजन को कम करना हो, सभी को जिम से बेहतर उपाय कोई नहीं लगता | यूं भी अच्छी बॉडी कौन नहीं चाहता लेकिन जिम जाने से अच्छी बॉडी बन जाए यह जरूरी नहीं|
जिम जाने के साथ ही डाइट और दिनचर्या में भी बदलाव करने पड़ते है तब कहीं जाकर कोई भी व्यक्ति अपना मनचाहा शारारिक सेब पा सकता है आपको बताते हैं जिम में बॉडी बिल्डिंग के बाद क्या करना चाहिए यह टिप्स आपको जिम मैं हैवी वर्कआउट के बाद नॉर्मल होने और बेहतरीन बॉडी पानी मददगार साबित होंगे

जिम जाने के बाद क्या करें
शांत रहे
जिम में पसीना बहाने के दौरान हृदय की गति तो तेज होती ही है साथ ही पूरे शरीर पर अतिरिक्त दबाव बढ़ जाता है ऐसे में जिम से बाहर आने के बाद शरीर को आराम दे और कुछ देर शांत रखे कठिन एक्सरसाइज करने के बाद किसी हल्की एक्सरसइज को करते हुए वर्कआउट समाप्त करें|

खूब पानी पिए

खुद को डिहाइड्रेशन से बचाए रखना बेहद जरूरी है जिम के दौरान शरीर से बहुत पसीना निकलता है, ऐसे में जिम से बाहर आकर पानी जा जूस लाभदायक होता है| कितना पानी पीना जरूरी है इसके लिए एक छोटी सी ट्रिक अपनाएं जिम से पहले और बाद में वजन तोलने जितने पोंद भी घटे हो, कितने आऊं पानी पिए शरीर में पानी की कमी तो नहीं हो रही इसके लिए अपनी टॉयलेट पर भी ध्यान दे| यदि पेशाब का रंग पीला है तो पानी की मात्रा बढ़ाएं

स्ट्रेच

स्ट्रेच सेशन को घटाएं नहीं नहीं उसे छोड़ो यह न केवल वर्कआउट के बाद शरीर में होने वाले दर्द को कम करेगी बल्कि मसल्स को भी लचीला रखेगी साथ ही इससे दुर्घटना की संभावना भी घटेगी| ध्यान रहे कितना ज्यादा खिंचाव में होगी दर्द होने लगे या आराम मिलने लगे एक सीमित समय तक स्ट्रेचिंग करनी चाहिए

क्या खाएं
यदि आप वजन कम करने के लिए जिम कर रहे हैं तो जिम के बाद खाना आपको हैरत में डाल सकता है लेकिन चिंता मत कीजिए, ऐसा करने से वजन नहीं बढ़ेगा जिम के दौरान ऊर्जा के लिए कैलोरी घटती है ऐसे में जिम के बाद दिल्ली जाने वाली स्वास्थ्य कैलोरी से मोटापा नहीं बढ़ता यह कैलोरी शरीर में मरम्मत करने और ऊर्जा को बरकरार रखने के लिए होती है
जिम के बाद आपको तकरीबन डेढ़ सौ कैलोरी की आवश्यकता होती है इसके साथ ही इसमें प्रोटीन होना भी बेहद जरूरी होता है ऐसा करने से मसल्स बेहतर तरीके से गठित हो पाते हैं और शरीर को पर्याप्त ऊर्जा भी मिलती है|
आप और आपके दोस्त दोनों एक साथ, एक ही तरह का वर्कआउट करते हैं, एक ही ट्रेनर की सलाह मानते हैं फिर भी दोनों का शरीर अलग तरह से विकसित हो रहा है यह सवाल कई लोगों के दिमाग में उठता होगा यह समझना बेहद जरूरी है कि हर किसी के शरीर की बनावट अलग है ऐसे में यह ध्यान रखें कि आप मसल्स गेन करें फैट नहीं|
आपका शरीर पहले से बेहतर बन रहा है तो इस बात की चिंता छोड़ दे कि दोस्त का शरीर आप से बेहतर क्यों हो रहा है अपने शरीर को समय-समय पर नापते रहे, इससे आप अपने मास ग्रोथ पर सही नजर रख सकेंगे|

Check Also

ग्रेटर नोएडा में अवैध कॉलोनियों की रजिस्ट्री पर लगनी चाहिए रोक

ग्रेटर नोएडा( कपिल कुमार) ग्रेटर नोएडा शहर में जगह-जगह अवैध कॉलोनियां काटी जा रही हैं …

Leave a Reply

%d bloggers like this: