Breaking News
Home / ग्रेटर नॉएडा / माटी कला को आगे बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार गंभीर

माटी कला को आगे बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार गंभीर

कलेक्ट्रेट के सभागार में अधिकारियों व माटी कला से जुड़े कामगारों के साथ बैठक करते हुए माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष धर्मवीर प्रजापति ने अपने उद्बोधन में कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार माटी कला को आगे बढ़ाने को लेकर गंभीर है। इसके लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में माटी से बने बर्तनों का प्रयोग करके हम अपने स्वास्थ एवं वातावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने में अपना योगदान दे सकते है इसके लिए हमें अपने माटी कला से जुड़े कामगारों का चिन्हिकरण करते हुए उनके रोजगार को बढ़ाने के लिए प्रयासरत होना होगा। जिसके लिए उनको मिट्टी एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था और उनके मिट्टी के बर्तन प्रदर्शित किए जाने का प्रयास करना होगा। जिससे आमजन को मिट्टी के बर्तनों की उपयोगिता के लाभ की जानकारी आसानी से प्राप्त हो सके और मिट्टी के बने बर्तनों का अधिक से अधिक प्रयोग कराने के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार करायें ताकि अधिक से अधिक लोग मिट्टी से बने बर्तनों का प्रयोग कर अपने स्वास्थ व वातावरण को स्वस्थ बना सकें।
श्री प्रजापति के द्वारा सम्बन्धित अधिकारियों से माटी कला के कार्याे की समीक्षा करते हुये चिन्हिकरण के कार्य में संतोषजनक जवाब न मिलने पर उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि समय रहते चिन्हिकरण का कार्य पूरा करते हुए उन्हें अवगत कराया जाये। उन्होंने कहा की यह कार्यक्रम उत्तर प्रदेश सरकार का महत्वपूर्ण कार्यक्रम है जिससे आमजन और आने वाली पीढ़ी को स्वच्छ पानी, निरोगी स्वास्थ, प्रदूषण रहित वातावरण की सौगात देकर माटी कला से जुड़े कामगारों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जा सकें और उन्होंने पाॅलीथीन के प्रयोग से होने वाली समस्याओं के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी देते हुये कहा कि पाॅलीथीन बैन कराने के लिए विशेष अभियान चलाया जाये और अभियान में पाॅलीथीन के उच्च स्तर पर स्टाॅक रखने वाले विक्रेताओं पर सख्त से सख्त कार्यवाही अमल में लायी जाये ताकि नीचले स्तर के विक्रेताओं को पाॅलीथीन प्राप्त ही न हो सकें और पाॅलीथीन पर बैन लगाकर अपने वातावरण को स्वच्छ बनाया जा सकें,
इस अवसर पर श्री प्रजापति के द्वारा माटी कला से जुड़े कामगारों की समस्या सुनते हुये सम्बन्धित अधिकारियों को निस्तारण के निर्देश दिये और कहा कि इनकी समस्याओं का निस्तारण तत्काल प्रभाव से कराया जाये ताकि माटी कला रोजगार को बढावा देने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो तथा प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशा को पूर्ण रूप दिया जा सकें साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि माटी कला के कामगारों को प्रत्येक तहसील सूपूर्ण समाधान दिवस व जनपद में आयोजित होने वाले मेलों में एक निशुल्क स्टाॅल उपलब्ध कराया जाये ताकि उनके द्वारा बनाये गये बर्तनों की प्रदर्शनी लगाकर कर लोगो को माटी से बने बर्तनो के प्रयोग से होने वाले लाभ की जानकारी प्राप्त हो सके।
अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिवाकर सिंह के द्वारा माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष धर्मवीर प्रजापित को आश्स्वत करते हुये कहा कि माटी कला रोजगार को बढावा देने के लिए उनके द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये है, उनको अधिकारियों के माध्यम से कढाई से पालन कराया जायेगा और माटी के बने बर्तनों के प्रयोग से होने वाले लाभ का व्यापक प्रचार प्रसार कराया जायेगा, ताकि माटी कला से निर्मित बर्तनों का अधिक से अधिक प्रयोग किया जा सकें। माटी कला कामगारो को जिला प्रशासन के द्वारा पूर्ण सहयोग किया जायेंगा और उनकी समस्यओं का अधिकारियों के माध्यम निस्तारण कराया जायेगा।
इस महत्वपूर्ण बैठक में उपजिलाधिकारी दादरी, उपजिलाधिकारी जेवर, उपजिलाधिकारी सदर, जिला ग्रामोउद्योग अधिकारी पवन यादव तथा माटी कला के प्रतिनिधियों एवं कामगारों के द्वारा भाग लिया गया।

Check Also

नए कोविड वेरिएंट का केस मिला जिसने दक्षिण अफ्रीका में बरपाया कहर, सरकार ने राज्यों को किया अलर्ट

नॉएडा :इजरायल ने कोविड-19 वेरिएंट के ऐसे मामले की पहचान की है जिसके बारे में …

Leave a Reply

%d bloggers like this: