Breaking News
Home / ताज़ा खबरें / 12 मई से कार बनाएगी मारुति सुजुकी, 100 कंपनियों के सहयोग के साथ शुरू होगा काम

12 मई से कार बनाएगी मारुति सुजुकी, 100 कंपनियों के सहयोग के साथ शुरू होगा काम

लंबे अंतराल के बाद अब ऑटो कंपनियों ने अपने कारखाने खोलने की पूरी तैयारी कर ली है। जहां हीरो मोटोकॉर्प ने कुछ गाइडलाइंस के साथ काम शुरू कर दिया है वहीं देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी 12 मई से कारों का उत्पादन शुरू करेगी। बता दें कि बुधवार को मारुति सुजुकी के मानेसर प्लांट में कंपनी के उच्च अधिकारी पहुंचे और फिर से उत्पादन शुरू करने का फैसला किया।
गुरुग्राम जिला प्रशासन की तरफ से कंपनी को मानेसर और गुरुग्राम संयंत्र खोलने की अनुमति मिल चुकी है। कंपनी को यह अनुमति 20 अप्रैल के बाद दी गई थी। इसमें सबसे पहले अनुमति मानेसर संयंत्र को दी गई थी। इसके बाद गुरुग्राम और रोहत के शोध एवं विकास केंद्र को भी शुरू करने की स्वीकृति मिली थी। जिला प्रशासन ने गुरुग्राम के संयंत्र में 10.258 कर्मचारियों को डबल शिफ्ट में काम करने की स्वीकृति दी है। मारुति सुजुकी को कार बनाने के लिए 100 से अधिक छोटी और बड़ी कंपनियों का सहयोग चाहिए। बुधवार को उच्च अधिकारियों ने उपकरणों और दूसरे पार्ट्स की उपलब्धता के बाद यह फैसला किया। कंपनी पिछले दो हफ्ते संयंत्रों को शुरू करने की तैयारी में जुटी थी। इसके लिए संयंत्र के अंदर साफ सफाई और सोशल डिस्टेंसिंग के उपाय सुनिश्चित किए जा रहे थे। 
मारुति सुजुकी के गुरुग्राम और मानेसर संयंत्रों में स्थायी और अस्थायी को मिलाकर करीब 20 हजार कर्मचारी काम करते हैं। मारुति के दोनों संयंत्रों के 33 फीसदी स्टॉफ से फिलहाल काम किया जाएगा। मारुति सुजुकी के संयंत्रों को शुरू होने से बड़ी संख्या में छोटी कंपनियों में भी कामकाज शुरू हो सकेगा। वहीं 22 मार्च से बंद चल रहे हीरो मोटोकॉर्प के संयंत्रों में गाइडलाइंस के हिसाब से काम शुरू हो गया है। 
देश की विभिन्न वाहन कंपनियों ने अपने संयंत्रों को फिर से खोलना शुरू कर दिया है। कोविड-19 लॉकडाउन के तीसरे चरण में उद्योगों को सशर्त कारखाने खोलने की छूट दी है। इस बीच मारुति के एलान के साथ साथ इसूजू मोटर्स इंडिया ने भी आंध्र प्रदेश के श्रीसिटी में अपना संयंत्र दोबारा शुरू करने के लिए स्थानीय प्रशासन से अनुमति प्राप्त कर ली है। रॉयल एनफील्ड ने भी बुधवार से अपने तमिलनाडु के ओरागदम संयंत्र को फिर से शुरू कर दिया। टीवीएस मोटर कंपनी ने कहा कि उसने अपने सभी भारतीय संयंत्रोंको दोबारा शुरू कर दिया है। 
वहीं कोरोना संकट से सबक लेते हुए ह्युंदै इंडिया ने नए ग्राहकों के लिए एक विशेष योजना पेश की है। भावी ग्राहकों को यह आश्वासन देने के लिए कि नौकरी चले जाने के संभावित खतरों से उनकी खरीद प्रभावित नहीं होगी। कंपनी ने बुधवार को इसकी घोषणा की और कहा कि मई के चालू महीने में की गई खरीद के लिए यह कार्यक्रम पेश कर रही है। ह्यूंदै का कहना है कि चुनिंदा नए ग्राहकों के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया गया है, जो कार लोन के तीन ईएमआई तक को कवर करती है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस कार्यक्रम के तहत उन ग्राहकों को लाभ मिलेगा जो अनिश्चितताओं की परिस्थिति में जैसे कि कंपनी के खराब वित्तीय स्वास्थ्य / अधिग्रहण / विलय के मद्देनजर रोजगार हानि या किसी अन्य कानूनों के लागू होने कारण उनकी नौकरी चली जाए तो। इस कार्यक्रम के तहत कार की बिक्री की तारीख से तीन महीनों के बाद एक साल की अवधि तक ग्राहकों को इसका लाभ मिलेगा। यानी कुल मिलाकर 15 महीनों तक ग्राहक इस कार्यक्रम के तहत सुरक्षित रहेंगे।

Check Also

करवाचौथ मनाना है, ट्रैफिक नियम को अपनाना है

नोएडा( कपिल कुमार)जहा एक तरफ भारतवर्ष में दुर्घटना रुकती नही, वही दूसरी तरफ लोग यातायात …

Leave a Reply

%d bloggers like this: