05/17/2022
English Hindi

सफलता में सोच की भागीदारी

नॉएडा व्यूज : अक्सर लोग यह कहते हैं की इन सब के बारे में सोच-सोच कर मेरे सर में दर्द हो गया है अक्सर कई बार सोचने से कोई बात इंसान के दिमाग में घर कर जाती है इसी बात को सोचते हुए सर सर में दर्द या अन्य परेशानी इसलिए महसूस होती है क्योंकि लोग नकारात्मक बातों को लगातार सोचते रहते हैं सकारात्मक बातों को भी जा सकता है लेकिन वह इससे आगे नहीं सोच पाते सोच का सफलता के साथ गहरा संबंध है|
धीरूभाई अंबानी ने कहा था “बड़ा सोचो बड़ा करो सोचने में किसी का कुछ नहीं जाता” लेखक डेविड जय कहते हैं कि किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए सबसे पहले सोच जरूरी होती है सोच का सफलता से गहरा संबंध है इतनी बड़ी सोच होगी आपको इतनी ही बड़ी सफलता मिलेगी सफलता इंसान की खुद की सोच पर निर्भर होती है|
व्यक्ति की सोच में परमाणु बम जैसी ताकत होती है यदि सोच सकारात्मक होगी तो व्यक्ति में उर्जा भर देगी नकारात्मक सोच लाचार बना देगी और वह तनाव का शिकार हो जाता है नकारात्मक सोच व्यक्ति को गलत कार्य करने के लिए प्रेरित करती है
व्यक्ति कई बार गलत कार्यों के चलते अपने जीवन को बर्बाद कर लेता है ऐसा सोच के कारण ही होता है सकारात्मक सोच असफलता के पहाड़ को दोस्त कर सफलता की ओर कदम बढ़ाती है यही सोच के साथ हर हर चीज को हासिल किया जा सकता है जिसे व्यक्ति पाना चाहता है यदि आप चाहते हैं कि सब कुछ वैसा हो जैसा आप चाहते हो तो अपनी सोच को बदल लीजिए सब कुछ बदल जाएगा और वैसा ही होगा जैसा आप चाहेंगे मोहम्मद अली को दुनिया में रिंग के अंदर कोई नहीं हरा पाया क्योंकि उनके पास एक सकारात्मक सोच थी
सकारात्मक सोच व्यक्ति को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत बनाती है सही दिशा में सोचने वाला व्यक्ति आध्यात्मिक आनंद में डूबा रहता है वह बीमार, तनाव और चिंता का शिकार नहीं होता है असफलता उसे हरा नहीं पाती क्योंकि सकारात्मक सोच से वह अपनी असफलता को सफलता में परिवर्तन कर लेता है व्यक्ति की सोच पहुंच जाती है जहां तक सूरज की रोशनी भी नहीं पहुंच पाती
मनुष्य को कल्पना और सफलता देखने की क्षमता हासिल हो जाती है मांझी ने पहाड़ काट कर रास्ता बना दिया था उसने अपनी सकारात्मक सोच से सब को हिला दिया अपनी सकारात्मक सोच की वजह से चलता पर सफलता की विजय पाई जा सकती है इंसान की सोच हमेशा क्रांतिकारी होनी चाहिए जिससे कि वह खुद में बदलाव देख सके और दूसरों में कर सके|

दीपक तोंगड़ (खेड़ी)

Leave a Reply

WhatsApp chat
%d bloggers like this: