गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई की डीपी लगाकर व्हाट्सएप से मांगी 20 लाख की रंगदारी, गिरफ्तार

 गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई की डीपी लगाकर व्हाट्सएप से मांगी 20 लाख की रंगदारी, गिरफ्तार

गाजियाबाद। पुलिस ने अधिवक्ता गौरव पाल से 20 लाख रुपये रंगदारी मांगने वाले शातिर बदमाश को शनिवार को गिरफ्तार किया है। उसने गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई की डिस्पले पिक्चर (डीपी) लगे वर्चुअल वाट्सएप नंबर से रंगदारी मांगी थी। उसके पास से वाइफाइ डिवाइस बरामद हुई है।
सहायक पुलिस आयुक्त पूनम मिश्रा ने बताया कि बदमाश की पहचान जाटन मढ़ैया चंडी मंदिर के पीछे पिलखुआ, हापुड़ के कपिल चौधरी के रूप में हुई है। पूछताछ में पता चला है कि वह शातिर बदमाश है। वर्ष-2021 में आठ साल की सजा काटकर जेल से छूटा है। उसका सगा भाई और पिता पिलखुआ थाना के हिस्ट्रीशीटर बदमाश हैं।
भाई भी तीन दिन पहले हुआ है जेल से रिहा
उसका भाई तीन दिन पहले जेल से रिहा हुआ है। अपने व भाई और पिता के मुकदमों की पैरवी के खर्चों के लिए उसने गौरव से रंगदारी मांगी थी। इसके लिए उसने योजना बनाई थी।
ऐसे तैयार किया वर्चुअल Whatsapp नंबर
योजना के तहत उसने यूट्यूब से वर्चुअल वाट्सएप नंबर तैयार किया। उसका प्रयोग करके वाइफाइ डिवाइस से जरिये दो दिसंबर को अर्थला के गौरव को वाट्सएप संदेश भेजकर 20 लाख रुपये रंगदारी मांगी थी।
डराने के लिए लगाई लॉरेंस बिश्नोई की डीपी
डराने के लिए डीपी में गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई की डीपी का प्रयोग किया था। पूनम मिश्रा ने बताया कि गौरव की शिकायत पर साहिबाबाद कोतवाली में अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई थी। सर्विलांस व अन्य माध्यमों से जानकारी जुटाकर बदमाश कपिल चौधरी को दबोचा गया। उसे जेल भेज दिया गया।

Noida Views

Leave a Reply

%d bloggers like this: