नोएडा में होगा बड़ा निवेश, 86 गांवों की जमीन पर बसाया जाएगा नया नोएडा; इंडस्ट्री और एजुकेशन का होगा हब

 नोएडा में होगा बड़ा निवेश, 86 गांवों की जमीन पर बसाया जाएगा नया नोएडा; इंडस्ट्री और एजुकेशन का होगा हब

नोएडा। नोएडा, बुलंदशहर और दादरी के 86 गांवों की जमीन पर दिल्ली नोएडा गाजियाबाद इंवेस्टमेंट रीजन (नया नोएडा) बसाने की तैयारी है। विदेशी निवेश के साथ यहां उद्योगों का हब विकसित किए जाने के साथ ही उच्च स्तरीय शिक्षा की भी व्यवस्था की जाएगी। इस क्षेत्र की पहचान इंडस्ट्री हब के साथ एजुकेशन हब के रूप में भी बनेगी। हायर एजुकेशन के बड़े बड़े संस्थान, विश्वविद्यालय से लेकर मेडिकल व पैरामेडिकल कालेज तक बनाए जाएंगे। शहर में बेहतर कनेक्टिविटी के लिए तीन टाइप की सड़क का जाल बिछाया जाएगा।
डीएनजीआइआर करीब 21 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बसाया जा रहा है। इसके लिए मास्टर प्लान 2041 बनाया गया है। इसका 8811 हेक्टेयर एरिया औद्योगिक होगा। माना जा रहा है कि इस शहर की कुल आबादी छह लाख में माइग्रेंट यानी प्रवासी की संख्या साढ़े तीन लाख के करीब होगी। जिनके लिए ईडब्ल्यूएस, एलआईजी, एमआइजी और एचआइजी प्रकार की यूनिट बनाई जाएंगी। इसके अलावा कुल आवासीय क्षेत्र दो हजार हेक्टेयर से ज्यादा होगा।
हायर एजुकेशन के लिए एक हजार 662 हेक्टेयर रिजर्व
इस आबादी को बेहतर शिक्षा के लिए कहीं बाहर जाने की आवश्यकता नहीं होगी। मास्टर प्लान में हायर एजुकेशन के लिए श्रेणी निर्धारित की गई है। इसके लिए एक हजार 662 हेक्टेयर एरिया को आरक्षित किया गया है। यह क्षेत्र पीएसपी इंस्टीट्यूशनल के लिए है। जिसमे संस्थागत श्रेणी की इंडस्ट्री भी काम करेंगी।
हायर एजुकेशन के लिए ये होगा खास
-यूनिवर्सिटी कैंपस
-मेडिकल कालेज
-इंजीनियरिंग कालेज
-प्रोफेशनल कालेज
-नर्सिंग पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट
-इंटीग्रेटड कालेज
-ग्रेजुएशन कालेज
-टेक्निकल कालेज

Noida Views

Leave a Reply

%d bloggers like this: