लिफ्ट में आधे घंटे तक फंसे रहे महिला, बच्चे और बुजुर्ग; घटना से सोसायटी के लोगों में नाराजगी

 लिफ्ट में आधे घंटे तक फंसे रहे महिला, बच्चे और बुजुर्ग; घटना से सोसायटी के लोगों में नाराजगी

नोएडा। ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित पंचशील हाइनिश सोसाइटी में बच्चों को स्कूल से लेकर लौट रही तीन महिलाएं, तीन बच्चे एक बुजुर्ग लिफ्ट में फंस गए। काफी देर तक प्रयास के बाद भी उन्हें मदद नहीं मिली। लगभग आधे घंटे बाद मौके पर पहुंचे मेंटेनेंस विभाग के एक कर्मचारी ने लिफ्ट खोलकर तीनों को बाहर निकाला। लिफ्ट फसने की घटना से सोसाइटी के लोगों में नाराजगी है। लोगों ने बिल्डर प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।
लगातार दर्ज हो रही लिफ्ट फंसने की घटनाए
ग्रेटर नोएडा वेस्ट की विभिन्न सोसाइटी में लिफ्ट फसने की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पिछले लगभग 5 माह के दौरान 6 से अधिक सोसाइटी में लिफ्ट फसने की घटनाएं हो चुकी हैं। लगातार लिफ्ट हंसने की घटना होने के बावजूद भी बिल्डर एवं मेंटेनेंस प्रबंधन विभाग लिफ्ट के मेंटेनेंस पर ध्यान नहीं दे रहा है। इसी का परिणाम रहा मंगलवार को पंचशील हाइनिश सोसाइटी के टावर नंबर 2 में 7 लोग लिफ्ट में लगभग आधे घंटे तक फंसे रहे ।
सोसायटी के लोगों ने बताया कि टावर नंबर 2 में रहने वाली 3 महिलाएं अपने बच्चों को लेने के लिए सोसाइटी के मेन गेट पर गई थी। बच्चों को लेकर लिफ्ट से अपने-अपने फ्लैट पर जा रही थी। लिफ्ट में तीन महिलाएं, तीन बच्चे व एक अन्य बुजुर्ग सवार थे । रास्ते में ही लिफ्ट फस गई ,महिलाओं ने इमरजेंसी बटन दबाया। कई बार इमरजेंसी बटन दबाने के बाद भी मदद के लिए कोई नहीं पहुंचा।
कुछ देर में ही सभी लोग घबरा गए, सभी ने लिफ्ट को पीटना व जोर-जोर से शोर मचाना शुरू कर दिया। अंदर से शोर की आवाज सुनकर आसपास के लोगों को लिफ्ट फसी होने की जानकारी हुई। उन्होंने मेंटेनेंस विभाग को जानकारी दी, जिसके बाद एक कर्मचारी मौके पर पहुंचा और उसने लिफ्ट खोलकर सभी को बाहर निकाला।
लिफ्ट फसने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल
लिफ्ट फसने का एक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है । जिसमें दिख रहा है कि लिफ्ट बीच में फंसी हुई है, मेंटेनेंस विभाग का एक कर्मचारी हाथ पकड़कर लिफ्ट में फंसे सभी लोगों को बाहर निकाल रहा है । महिलाएं कह रही हैं कि लगभग आधे घंटे से लिफ्ट में फंसे थे, लेकिन कोई मदद नहीं मिली। मेंटेनेंस विभाग का कर्मचारी बता रहा है कि वह दूसरे टावर में था, सूचना मिलने पर वहां से भाग कर यहां आया है। यदि समय पर मेंटेनेंस विभाग का कर्मचारी नहीं पहुंचता तो कोई घटना हो सकती थी।

Noida Views

Leave a Reply

%d bloggers like this: