ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा कब सील किया जाएगा अवैध कमर्शियल कंपलेक्स?

 ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा कब सील किया जाएगा अवैध कमर्शियल कंपलेक्स?

ग्रेटर नोएडा। कपिल कुमार

प्राधिकरण के नाम के साथ आजकल ज्यादातर जो शब्द इस्तेमाल किया जाता है वह है भ्रष्टाचार और यह शब्द ऐसे ही नहीं जोड़ा गया है। यह प्राधिकरण के अधिकारियों के कारनामे के कारण प्राधिकरण के साथ जुड़ा, जो प्लॉट संस्थागत के नाम पर अलॉट किए गए थे उनमें कमर्शियल कंपलेक्स बने खड़े हैं और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को गुमराह करके प्राधिकरण की छवि को धूमिल किया जा रहा है बड़े स्तर पर आर्थिक नुकसान भी किया जा रहा है।

नक्शा स्कूल का पास कराया, बना दिया कमर्शियल कंपलेक्स

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में जो नक्शा पास कराया गया है उसमें प्ले स्कूल की बिल्डिंग दर्शाई गई है जबकि मौके पर पूरी तरह कमर्शियल है और एक फ्लोर पर नक्शे से ज्यादा निर्माण भी किया हुआ है लीज डीड की शर्तों का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है।

प्राधिकरण को इसकी जांच करते हुए बिल्डिंग को सील करना चाहिए और लीज डीड की शर्तों का उल्लंघन करने के आरोप में कार्रवाई करनी चाहिए साथ ही अलॉटमेंट भी कैंसिल हो, प्राधिकरण को शक्ति के साथ नियमों का पालन कराना होगा।

Kapil Choudhary

Leave a Reply

%d bloggers like this: