मातृत्व की मिसाल ज्योति सिंह को एसीआईसी ने किया सम्मानित।

 मातृत्व की मिसाल ज्योति सिंह को एसीआईसी ने किया सम्मानित।

ग्रेटर नोएडा। अशोक तोंगड़

‘नास्ति मातृसमा छाया, नास्ति मातृसमा गतिः। नास्ति मातृसमं त्राण, नास्ति मातृसमा प्रिया।।’ मॉं से बढकर इस दुनिया में कोई नहीं। इसको चरितार्थ किया ज्योति सिंह ने। जहॉं एक मॉं ने इस सर्दी के मौसम में मरने नवजात बच्ची को मरने के लिए छोड़ दिया वहीं एक मॉं ने ईश्वर रूप बन बच्ची की जान बचाई। गौतमबुद्धनगर नालेज पार्क में विनोद कुमार सिंह थानाध्यक्ष की पत्नी ज्योति सिंह ने झाङी में मिली बच्ची को स्तनपान कराकर बच्ची को जीवनदान दिया। अब बच्ची खतरे से बाहर हैं। इस मानवीय व मातृत्व से परिपूर्ण कृत्य के लिए एंटी करप्शन इंटरनेशनल काउंसिल महिला विंग गौतमबुद्धनगर टीम ने ज्योति को मॉं का दर्जा देते हुए लाल रंग की चुनरी उठाई व फूलमाला पहनाकर सम्मानित किया। ज्योति सिंह ने टीम से बात करते हुए अपने मन की बात कही यदि बच्चे को नहीं पाल सकते तो बच्चे को इस तरह फेंकने जैसा घृणित कार्य करने की बजाय किसी अनाथालय, मंदिर या सही जगह उसको दें। अंत में उन्होंने सम्मान के लिए एसीआईसी टीम का धन्यवाद किया। इस दौरान राष्ट्रीय निदेशक महिला विंग से कृष्णा भाटी, ममता पंवार, रीनू शर्मा, साक्षी शर्मा, शालू सिंघल, माही त्यागी, सीमा गर्ग, प्रियंका शर्मा, गीता व अन्य साथी उपस्थित रहे।

Kapil Choudhary

Leave a Reply

%d bloggers like this: