तंबाकू नियंत्रण के संबंध में आयोजित किया कार्यक्रम

 तंबाकू नियंत्रण के संबंध में आयोजित किया कार्यक्रम

ग्रेटर नॉएडा : मुख्य चिकित्सा अधिकारी की अध्यक्षता में ज़िला मे तम्बाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ के द्वारा तम्बाकू निषेध महीना का आयोजन किया जा रहा है। आज आईएमए भवन मे मुख्य चिकित्सा अधिकरी डा.अनुराग भार्गव ने कार्यक्रम का उद्धघाटन किया। कार्यक्रम मे डा.नेपाल सिंह, डा.सुनील दोहरे व डा.ढाका और डा.श्वेता खुराना उपस्थित रहे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा ज़िले मे संचालित समस्त कार्यक्रमों के बारे मे अवगत करवाया गया। उन्होंने बताया की तंबाकू के धुए में 6000 रसायन होते हैं, जिनमे 80 से कैंसर हो जाता है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुनील दोहरे ने तम्बाकू से होने वाली बीमारियों से आशा बहनो को अवगत करवाया। डा. दोहरे ने बताया की सभी मौलिक कैंसर में 95 प्रतिशत तम्बाकू सेवन से होता हैं। उन्होंने आशा एवं एएनएम बहनो से अपने घरों मे भी यह जागरुकता देने को कहा कि तम्बाकू प्रयोग ना करें। भारत में 100 में से 40 कैंसर तम्बाकू से संबंधित हैं। तम्बाकू का सेवन कई प्रकार से होता है और निष्क्रिय धूम्रपान से भी उतनी ही बीमारियों से पीड़ित होते हैं जितना सक्रिय धूम्रपान से होता हैं। डा.श्वेता ने आशा बहनो को बताया की तम्बाकू की लत प्रदेश पर आर्थिक और शारीरिक भार पड़ रहा है। अगर स्वस्थ कर्मचारी तम्बाकू सेवन करने वाले व्यक्तियों को जागरुक करें और छोड़ने के लिए प्रेरित करें तब ग़ैर संचारी रोगों का भार कम हो जाएगा। डा. दीक्षा ने तम्बाकू की लत से पीड़ित लोगों की कैसे सहायता की जा सकती है इससे अवगत करवाया गया। ज़िले की समस्त आशा एएनएम को तम्बाकू नियंत्रण जागरुकता कार्यक्रम बड़े स्तर से किया गया। नुक्कड़ नाटक के द्वारा आशा एएनएम का मनोरंजन किया गया और नाटक द्वारा तम्बाकू से होने वाले कैंसर के बारे मे अवगत करवाया गया। कार्यक्रम के अंत मे मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा उपस्थित समस्त अधिकारियों आशा और एएनएम को शपथ दिलाई की वह तम्बाकू का सेवन नहीं करेंगे और ना किसी को करने देंगे।

Kapil Choudhary

Leave a Reply

%d bloggers like this: