पूरी तरह Fastag लागू करना नहीं होगा आसान, ये है समस्या…

 पूरी तरह Fastag लागू करना नहीं होगा आसान, ये है समस्या…

 ग्रेटर नॉएडा (मानसी )

टोल प्लाजा पर पूरी तरह फास्टैग लागू करना आसान नहीं है। सरकार द्वारा चलाए जा रहे तमाम जागरूकता अभियान के बावजूद अभी तक मात्र 14 फीसदी वाहनों में ही फास्टैग लगाए गए हैं। इसको देखते हुए फास्टैग लगाने के लिए मियाद भी बढ़ा दी गई हैं।


ये है समस्या
वाहनों में फास्टैग लगाने के लिए खरीददारों की लंबी-लंबी लाइन लग रही है। साथ ही टोल प्लाजा की लेन को भी फास्टैग आधारित नहीं बनाया गया है। वहीं, खरीददारों की भीड़ के कारण सर्वर भी डाउन चल रहा है। जिन्होंने फास्टैग खरीद लिया है उसे टैक्स भुगतान में परेशानी हो रही है।
मात्र 80 लाख वाहनों में ही लग पाए हैं फास्टैग
सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद अभी तक मात्र 80 लाख वाहनों में फास्टैग लगाए जा सके हैं। इस हिसाब से केवल 14 फीसदी वाहनों में फास्टैग लग पाए हैं। जबकि अभी छह करोड़ वाहनों में फास्टैग लगना बाकी है।


फास्टैग की मियाद 15 दिसंबर तक बढ़ी
केंद्र सरकार ने टोल प्लाजा पर फास्टैग से भुगतान की समय सीमा को एक दिसंबर से आगे बढ़ा दिया है। अब 15 दिसंबर तक लोग टोल प्लाजा पर कैश से भुगतान कर सकेंगे। हालांकि मुफ्त फास्टैग मिलने की अंतिम तारीख को आगे नहीं बढ़ाया गया है। यह पहले की तरह 30 नवंबर तक ही मिलेगा।
टोल प्लाजा पर फ्री में गुजर सकेंगे वाहन
NHAI के मुताबिक अगर किसी टोल पर RFID स्कैनर में कोई खराबी है और फास्टैग को स्कैन नहीं कर पा रहा है, तो इसके लिए वाहन चालक को कोई कोई पैसा नहीं चुकाना होगा और उसे फ्री में जाने की इजाजत दी जाएगी। इसके लिए टोल प्लाजा को निर्देश दिए गए हैं। साथ ही उन्हें टोल पर बोर्ड लगाने के लिए भी कहा गया है, जिससे जागरुकता फैलाई जा सके।

Kapil Choudhary

Leave a Reply

%d bloggers like this: