भारत में डेनमार्क के एम्बेसडर ने विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी का दौरा किया।

 भारत में डेनमार्क के एम्बेसडर ने विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी का दौरा किया।

उत्तर प्रदेश। भारत में डेनमार्क के एम्बेसडर, माननीय फ्रेडी स्वाने आज विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी के बुलंदशहर कैंपस में पहुंचे। शिव नादर फाउंडेशन के अभियान, विद्याज्ञान की स्थापना ग्रामीण उत्तर प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के विलक्षण प्रतिभा वाले बच्चों को आगे बढ़ाने तथा उन्हें अपने-अपने क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करने का मंच प्रदान करने के उद्देश्य से की गई थी। इस समय बुलंदशहर एवं सीतापुर में स्थित विद्याज्ञान के दो परिसरों में लगभग 1500 बच्चे अध्ययनरत हैं।

विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए भारत में डेनमार्क के एम्बेसडर, माननीय फ्रेडी स्वान ने कहा, ‘‘शिक्षा के मजबूत वातावरण का विकास सदैव से डेनमार्क की प्राथमिकता रहा है क्योंकि शिक्षा सफल समाज के निर्माण का आधार है। डेनमार्क में दुनिया का तीसरा सर्वश्रेष्ठ एजुकेशनल सिस्टम है। आज विद्याज्ञान में आकर मैं देख रहा हूँ कि भारत सही मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। यहां पर उपलब्ध बुनियादी ढांचा व सुविधाएं दुनिया के अन्य स्कूलों के समान हैं। मैं विद्यार्थियों से आग्रह करता हूँ कि वो उन्हें उपलब्ध कराए गए अवसरों का पूरा लाभ उठाएं एवं भविष्य में भारतीय अर्थव्यवस्था में अपना बहुमूल्य सहयोग दें।’’

विद्याज्ञान की चेयरपर्सन एवं एचसीएल इंटरप्राईज़ की सीईओ एवं एक्ज़िक्यूटिव डायरेक्टर, रोशनी नादर मल्होत्रा इस समारोह में शिव नादर फाउंडेशन के अन्य नेतृत्वकर्ताओं के साथ मौजूद थीं।

इस समारोह में रोशनी नादर मल्होत्रा ने कहा, ‘‘शिक्षा से उत्कृष्टता के मामले में भारत को डेनमार्क से बहुत कुछ सीखना है। हमारे विद्यार्थियों का सौभाग्य है कि उन्हें माननीय एम्बेसडर के साथ बात करने का अवसर मिला। मेरा मानना है कि लीडर्स ही लीडर्स को प्रेरित करते हैं। इसलिए हम विद्यार्थियों को सफल रोल मॉडल्स के विचारों एवं उनकी जिंदगी से अवगत कराते हैं। मैं विद्याज्ञान आकर विद्यार्थियों से बात करने के लिए माननीय एम्बेसडर का आभार व्यक्त करती हूँ।’’

माननीय फ्रेडी स्वान ने विद्याज्ञान के विद्यार्थियों से बात की और अपनी जिंदगी के किस्सों के बारे में उन्हें बताया।

Kapil Choudhary

Leave a Reply

%d bloggers like this: