Breaking News
Home / अभी-अभी / ‘सेवा परमो धर्मः’ धेयय वाक्य के साथ निरन्तर सेवा कार्यो में लगी है महामेधा नागर।

‘सेवा परमो धर्मः’ धेयय वाक्य के साथ निरन्तर सेवा कार्यो में लगी है महामेधा नागर।

ग्रेटर नोएडा | शालू शर्मा :

‘सेवा परमो धर्मः’ इस वाक्य की सार्थकता निश्चित रूप से देखने को तब मिलती है,जिस समय पूरा भारतवर्ष विभिन्न विपदाओं से जूझ रहा है और भारत के कुछ ऐसे जागरूक नागरिक जो इन विपदाओं के बीच खुद की परवाह न करते हुए निरंतर विभिन्न अभियानों के माध्यम से सेवा कार्यो में लगे हुए है। उनमें से एक है गौतमबुद्ध नगर निवासी ‘महामेधा नागर’ पूर्व सचिव दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ जो अपने समाज ,अपने देश के लिए कुछ कर गुजरने का जज़्बा रखती है। उनके द्वारा शुरू की गई मुहिम के अंतर्गत वे गौतमबुद्ध नगर के अन्तर्गत आने वाले विभिन्न गांवों में स्वास्थ्य परीक्षण कैम्प लगा कर आम जनमानस की स्क्रीनिंग कर रही है। इसके आलावा वह जरूरमंद लोगो को मुफ़्त दवाएं भी उपलब्ध करा रही है।

यह अभियान विगत कई दिनों से लगातार चल रहा है। इस अभियान में महामेधा को अमानत फाउंडेशन व नोविल फाउंडेशन जैसे सेवा संगठनों का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। आज यह कैम्प गौतमबुद्ध नगर जिले के कोट ग्राम सभा मे आयोजित किया गया है। इसमें लगभग 600 से अधिक लोगो ने अपना परीक्षण करवाया। साथ ही साथ आज के कैम्प में महिलाओं को सैनिटरी नैपकिंस का वितरण भी किया गया।
महामेधा ने वहां उपस्थित लोगो से बातचीत के दौरान जानकारी दी की यह कैम्प विभिन्न ग्राम सभाओं में आयोजित होगा। उन्होंने लोगो से भी अपील की आप सभी टीकाकरण जरूर कराएं टीकाकरण पूर्णता सुरक्षित है। इस कार्यक्रम में कोट गांव के ग्राम प्रधान सोनू प्रधान का भी पूर्ण सहयोग देखने को मिला है जिसके लिए महामेधा ने उन्हें धन्यवाद ज्ञापित किया और विश्वास दिलाया कि वह इसी तरह सेवा कार्यो में निरंतर लगी रहेंगी।

समाचार पत्र समाज और समाज के लोगों के लिए काम करता है जिनकी कोई नहीं सुनता उनकी आवाज बनता है पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है हमारे पाठकों से इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें और अगर मदद करना चाहते हैं तो पेटीएम करें 9810402764

Check Also

बारिश के कारण पूरी तरह से बर्बाद हो गई है धान की फसलें।

ग्रेटर नॉएडा : जनपद गौतम बुध नगर की दादरी तहसील के गांवों में धान की …

Leave a Reply

%d bloggers like this: